नोएडा से लापता कश्मीरी छात्र पाकिस्तान की जेल में बंद, जांच में जुटी पुलिस

नई दिल्ली

नोएडा से कश्मीरी छात्र के लापता होने के करीब पांच महीने बाद उसके पाकिस्तान की जेल में बंद होने की बात सामने आई है. जानकारी के मुताब‍िक, लापता छात्र के परिजनों ने बताया कि पाकिस्तान की जेल में 6 साल कैद रहने के बाद रिहा हुए एक युवक उन्हें ये जानकारी दी है कि उनका बेटा सैय्यद वाहिद पाकिस्तान की जेल में बंद है.

बता दें कि 13 दिसंबर 2018 को नोएडा के निजी कॉलेज एमिटी से पढ़ाई कर रहा छात्र अचानक लापता हो गया था. शुरुआती तौर पर ये बात सामने आई है कि सैय्यद वाहिद वीजा एक्सपायर होने के बावजूद भी पाकिस्तान में रह रहा था.

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया की नोएडा पुलिस ने पहले गुमशुदगी का मामला दर्ज किया था. कश्मीर से लड़के के परिवार वालों ने हमसे संपर्क किया और कहा कि पाकिस्तान की जेल में बंद एक लड़का रिहा होकर आया है और उसने बताया है कि आपका बेटा पाकिस्तान की जेल में है. हम इस जानकारी की पड़ताल कर रहे हैं और फिर उसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

गौरतलब है कि लापता छात्र सईद बासिद हसन (22) कश्मीर के जिला बांदीपोरा का रहने वाला है. वह नोएडा के सेक्टर- 125 स्थित एशियन बिजनेस स्कूल से बीबीए कर रहा था. वह नोएडा के ही सेक्टर-126 रायपुर में चौहान पीजी में रहता था. बीते 6 दिसंबर से वह अपने पीजी में नहीं गया. उसके दोस्तों ने बताया था कि 12 दिसंबर तक पास के ही भावना पीजी में दोस्तों के साथ दिखाई दिया और उसके बाद लापता हो गया. जब कई दिनों तक उसने घरवालों से संपर्क नहीं किया तो घरवाले नोएडा पहुंचे थे. पिता सैयद नासिर उल हसन ने बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट थाना एक्सप्रेस-वे में दर्ज कराई गई थी.

शुरुआती जांच में ये भी पता चला था कि लापता बासिद हसन पढ़ाई में कमजोर था. वह पांचवें सेमेस्टर में फेल हो चुका था. उस वक्त आशंका जताई जा रही थी कि वह पढ़ाई से डरकर जानबूझकर भागा है.

बता दें, नोएडा से पहले भी एक कश्मीरी छात्र गायब हुआ था, जो बाद में आईएसजेके में शामिल हो गया था. गायब छात्र का नाम एहतेशाम बिलाल था और वह शारदा यूनिवर्सिटी में इंजीनियरिंग का छात्र था. एहतेशाम अपने परिवार वालों की अपील पर घर लौट आ आया था, जिसे पुलिस ने हिरासत में ले लिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *