नरेंद्र मोदी ने मनमोहन को बताया वॉचमैन, बोले- ऐक्टिंग पीएम का रिमोट कहीं और था

 
सागर 

लोकसभा चुनाव को देखते हुए हमले तेज और धारदार होते जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश के सागर जिले में एक जनसभा के दौरान पूर्व की यूपीए सरकार में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को वॉचमैन बताया। उन्होंने कहा कि उन्हें देश की फिक्र नहीं बल्कि कुर्सी की फिक्र थी। इस वजह से देश तबाह होता गया, बर्बाद होता चला गया। 

आयोजित जनसभा में पीएम मोदी ने कहा, 'क्रिकेट में दिन का खेल पूरा होने का समय आखिरी ओवर बाकी हो एक-दो और कोई आउट होता है तो जो आखिरी नंबर का होता है उसे लाया जाता है, वह नाइट वॉचमैन का काम करता है। नाइट वॉचमैन भेजते हैं…जो अच्छे खिलाड़ी हैं, उन्हें नहीं भेजते। कांग्रेस को 2004 में, उन्होंने सोचा नहीं था, अचानक मौका मिल गया तो राजकुमार की संभालने की स्थिति नहीं थी, खुद परिवार को राजकुमार पर भरोसा नहीं था। कांग्रेस को भरोसा नहीं था, तो राजकुमार तैयार होने तक, परिवार का वफादार वॉचमैन बैठाने की योजना बनी। उन्होंने सोचा कि राजकुमार आज सीखेगा, कल सीखेगा, सब इंतजार करते रहे, भरपूर ट्रेनिंग देने की कोशिश भी की गई लेकिन सबकुछ बेकार हो गया।' 
 

'राजकुमार को सिखाने के चक्कर में 10 वर्ष तबाह'
मोदी ने कहा, 'इस कोशिश में देश के 10 साल तबाह हो गए, बर्बाद हो गए। ऐक्टिंग पीएम, रिमोट उनके पास नहीं था, किसी और के पास था। वह देश की चिंता छोड़ कुर्सी की चिंता में ही लगे रहे। दस साल देश ने ऐसी सरकार देखी कि हर तरफ हताशा-निराशा फैल गई। आखिरकार 2014 में इन लोगों को देश की जनता ने निकालकर बाहर कर दिया।' 
 

'100 साल तक काम नहीं कर पाती कांग्रेस'
सागर में पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस और उसके साथियों ने जो-जो काम समय पर नहीं किए, उसे पूरा करने में आज देश की जो ऊर्जा, देश का जो पैसा, देश का जो संसाधन लग रहा है उसके गुनहगार सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस वाले हैं। मैं यह भी दावे के साथ कह सकता हूं कि अगर कांग्रेस सत्ता में रहती तो यह काम भारत की आजादी के 100 साल तक पूरा नहीं करती।' 

अशोक गहलोत पर पीएम मोदी का वार 
मोदी ने कहा, 'मैंने कहीं पढ़ा कि राजस्थान में कांग्रेस के मुख्यमंत्री (अशोक गहलोत) ने कहा कि मोदी तो ऐक्टर है, ऐक्टर। चाहे रिमोट से चलानी हो, या रिमोट से विडियो गेम खेलना हो, ऐक्टर से आगे ये कुछ सोच ही नहीं पाते इसीलिए एक प्राइम मिनिस्टर इन वेटिंग के समझदार होने के इंतजार में कांग्रेस ने 10 साल तक, मुझे जो ऐक्टर कह रहे थे उन्हें पता होना चाहिए था कि उन्होंने 10 साल तक एक ऐक्टिंग प्राइम मिनिस्टर थोप दिया था।' 

'अटलजी ने ऐसा भारत कांग्रेस को किया था सुपुर्द' 
जनसभा में मोदी ने कहा, 'अटलजी की सरकार ने 2004 में करीब करीब आठ प्रतिशत विकास दर और बहुत कम महंगाई दर, ऐसा भारत कांग्रेस को सुपुर्द किया था। 2014 में इन्होंने करीब 5 प्रतिशत की विकास दर और 10 प्रतिशत की औसत महंगाई दर का भारत हमारे नसीब में छोड़कर गए।' 

'चायवाला इतना कैसे टिक गया?'
नरेंद्र मोदी ने सागर में आयोजित जनसभा में कहा, 'वे (कांग्रेस) रात-रात सोचते हैं कि यह चायवाला इतना टिक कैसे गया और देश को इतना आगे कैसे ले जा रहा है।' उन्होंने कहा, 'कांग्रेस के नामदार ने स्वीकार कर लिया है कि मोदी पर जो झूठे आरोप लगाए जा रहे थे उनका एकमात्र लक्ष्य मोदी की छवि को धूमिल करना था। उन्होंने कल खुद एक इंटरव्यू में यह बोल दिया है।' 
 
'नामदार की कंपनी का नाम कारोबार से मिलता है'
पीएम मोदी ने कहा, 'अरे नामदार जिसको मां भारती के कण-कण ने खड़ा किया हो, उस पर जितना कीचड़ उछालोगे, उतने ही कमल खिलेंगे।' उन्होंने कहा, 'आपने भी मीडिया में देखा होगा कि इस चौकीदार को गाली देते-देते खुद नामदार का अपना किरदार खुलता जा रहा है। नामदार ने इंग्लैंड में एक कंपनी बनाई थी, जिसका नाम भी इनके कारोबार से मिलता-जुलता है। 'बैक ऑप्स' यानी बैक ऑफिस ऑपरेशंस।' 

'पनडुब्बी वाली लाइन में कैसे आ गए?'
मोदी ने कहा, 'पर्दे के पीछे चलने वाली इस कंपनी को 2009 में बंद कर दिया गया था लेकिन अब पता चला कि उस कंपनी में जो नामदार के पार्टनर थे, उनको 2011 में पनडुब्बी बनाने का ठेका मिल गया था।' उन्होंने यह भी कहा, 'अब कांग्रेस के नामदार से जनता पूछ रही है, आपको और आपके पार्टनर को तो सिर्फ दलाली यानी लाइजनिंग का ही अनुभव था। ये पनडुब्बी बनाने वाली लाइन में कैसे आ गए।' 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *